Computer vs Laptop क्या ख़रीदना चाहिए ?

Computer vs Laptop क्या ख़रीदना चाहिए ?

SHARE

जब भी हम पहली बार कम्प्यूटर लेने की सोचते है तो अक्सर आज के समय में थोड़े से कन्फ़्यूज़ हो जाते है की कम्प्यूटर (Computer) ख़रीदना बेहतर होगा या फिर लैप्टॉप (laptop) , दोनों में क्या अंतर है अगर कंप्यूटर बेहतर है लैपटॉप से तो क्यों ? क्यों हमें कंप्यूटर खरीदना चाहिए ? लेकिन अगर लैपटॉप बेहतर है तो कंप्यूटर से तो हमें लैपटॉप क्यों लेना चाहिए ऐसे ही कई सारे सवाल आपके मन में भी होंगे क्यों , तो आखिर एक कंप्यूटर और लैपटॉप में क्या अंतर है ? ( What is Difference between Computer & Laptop in hindi ) व्हाट इस द डिफरेंस बिटवीन कंप्यूटर एंड लैपटॉप इन हिंदी ? Computer Vs Laptop कोनसा लेना बेहतर होगा ?

कंप्यूटर ख़रीदे या फिर लैपटॉप ख़रीदे ये आपके जरुरत पे निर्भर करता है की आप एक कंप्यूटर या लैपटॉप किस काम के लिए खरीद रहे है और आप इसे उपयोग किस तरह से करेंगे जैसे की एक जगह से दूसरी जगह जाके आप करते बहोत यात्रा (Travel) करते हो तो आपके लिए लैपटॉप (Laptop) एक बेहतर हो सकता है लेकिन आपको ज्यादा ट्रेवल नहीं करते सारा काम घर (House) या फिर ऑफिस (Office) से करते है तो ऐसे में आपके लिए कंप्यूटर (Computer) लेना बेहतर हो सकता है तो कंप्यूटर ख़रीदे या फिर लैपटॉप इसके लिए आपको दोनों के बीच में कुछ अंतर पता होना चाहिए (Computer Vs Laptop) तभी आप आपने लिए एक बेहतर चीज़ चुन सकते हो और अपने लिए एक कंप्यूटर या लैपटॉप बाई Buy) कर सकते हो.

Computer vs Laptop in hindi

Computer और Laptop दोनों में अन्तर क्या है ?

1. कीमत (Price): कंप्यूटर या फिर लैपटॉप जब भी आप खरीदने की सोचेंगे तो आपको हमेशा दोनों में एक बहोत बड़ा डिफरेंस (Difference) यानि की अन्तर देखने को मिलेगा वो है प्राइस जी है दोनों की कीमत में आपको थोडा अंतर देखने को मिलेगा , तो यहाँ पैसे की तुलना में जो कंप्यूटर है वो थोड़े से सस्ते होते है

उदहारण के लिए मान लीजिये आपके पास एक बजट है करीब 30 हजार रुपए का और इसमें आप एक लैपटॉप खरीदना चाहते है लेकिन लैपटॉप में आपको जो स्पेसिफिकेशन मिल रहे है वो आपके लिए कम है तो यहाँ पर आप डेस्कटॉप कंप्यूटर (Desktop Computer) खरीद सकते है जहा पर आपको लैपटॉप के मुकाबले अच्छी और बेहतर फीचर मिल जायंगे तो हमेशा ध्यान रखना लैपटॉप और कंप्यूटर (Laptop Vs Computer) आपको कंप्यूटर थोड़े से सस्ते पड़ जाते है.

2. पोर्टेबिलिटी ( Portability ) : पोर्टेबिलिटी का मतलब होता है जिसे आप आसानी से कही भी ले जा सके तो यहाँ पे आपको पता ही होगा कंप्यूटर को बार बार एक जगह से दूसरी जगह ले जाना कितना मुस्किल काम है लेकिन लैपटॉप को आप सिंपल सा बैग में रख कर कही भी ले जा सकते और कही भी किसी भी वक्लैत पटॉप का इस्तेमाल कर सकते है तो ये एक डिफरेंस जो आपको देखने को मिलेगा कंप्यूटर और लैपटॉप में.

तो हमेशा ध्यान रखना एक सिस्टम लेते वक्त चाहे कंप्यूटर हो या लैपटॉप (Computer Vs Laptop) अगर आप एक जगह से दूसरी जगह जाते हो बहोत ज्यादा ट्रेवल करते हो या फिर स्कूल या फिर कॉलेज (College) में पढाई के लिए जरुरत है तो ऐसे में आपको जरुर लैपटॉप लेना चाहिए लेकिन अगर आप ऑफिस का काम है या फिर घर पर बैठे सारा काम हो जाता है बाहर लेजाने की कोई जरुरत नहीं तो ऐसे में आप कंप्यूटर खरीद सकते है.

3. मॉनिटर स्क्रीन साइज़ (Monitor Screen Size) : लैपटॉप में जो स्क्रीन लगा होता है वो फिक्स साइज़ का होता है आप लैपटॉप की स्क्रीन को बदलवा के बड़ा स्क्रीन नहीं लगा सकते वही पे दूसरी और अगर हम डेस्कटॉप कंप्यूटर (Desktop Computer) की बात करे तो आप कंप्यूटर में कभी भी स्क्रीन साइज़ बढ़ा सकते है

Computer vs Laptop Screen Size

अपने हिसाब से डेस्कटॉप में मॉनिटर (Monitor) लगवा सकते है मान लीजिये अभी तो आपने कंप्यूटर खरीद लिया जो मॉनिटर है वो आपके लिए छोटा पड़ रहा है आगे जाके आप गेमिंग (Gaming) करना चाहते है कंप्यूटर जिसके लिए बड़ा स्क्रीन चाहिए या फिर आप कंप्यूटर प्रोग्रामिंग (Computer Programming) या फिर विडियो एडिटिंग (Video Editing) करना चाहते तो आपको कई बार बड़ा स्क्रीन चाहिए होता है तो ऐसे में आप लैपटॉप और कंप्यूटर (Laptop Vs Computer) में कंप्यूटर खरीद सकते ये आपके लिए बेहतर होगा.

4. अपग्रेडिंग पार्ट्स (Upgrading Parts) : ये एक बहोत ही बड़ा डिफरेंस है कंप्यूटर और लैपटॉप में कई बार कुछ समय बाद आप सिस्टम को अपग्रेड करना होता है पार्ट्स बदलने होते है तो ये चीज़ करना लैपटॉप (Laptop) में मुमकिन नहीं है हा आप कुछ चीज़े लैपटॉप में बदल सकते है लेकिन सारी चीज़े नहीं जबकी कंप्यूटर (PC) में आप सारे पार्ट्स को बदल सकते है और अपने सिस्टम को अपग्रेड कर सकते है

मान लीजिये अभी आपने एक कंप्यूटर ख़रीदा ये अभी फ़िलहाल आपके लिए सही लेकिन कुछ समय बाद ये कंप्यूटर स्लो है या कंप्यूटर हैंग (Computer Hang Problem) होने लगता है तो आप अपने सिस्टम को अपग्रेड करने की सोचते है तो आप अपने कंप्यूटर में ये साडी चीज़े आसानी से कर सकते है चाहे आपको सीपीयू (CPU) बदलना है या कंप्यूटर रेम (Computer Ram) बढ़ानी है हार्ड डिस्क (Hard Disk Storage) बढ़ानी तो ये आप आसानी से कंप्यूटर में कर सकते है

5. परफॉरमेंस (Performance) : जब भी आप सिस्टम लेते हो चाहे वो कंप्यूटर हो या फिर लैपटॉप हो आप हमेशा चाहते हो की जो परफॉरमेंस है कंप्यूटर की वो आपको बहोत ही बड़ा मिले में आपको बता दू कंप्यूटर की स्पीड थोड़ी से ज्यादा होती अगर हम इसे लैपटॉप से कम्पेर करते है तो तो यहाँ पर आपका काम बहोत ज्यादा हैवी वाला है जैसे की विडियो एडिटिंग (Video Editing) या फिर आपको गेम खेलना है गेमिंग (Gaming) के लिए पीसी(PC) चाहिए तो ऐसे में आपको हमेशा कंप्यूटर क साथ जाना चाहिए लेकिन अगर आपका काम बहोत ही लाइट है हल्का फुल्का काम है जैसे की एम्एस ऑफिस (Ms Office) चलाना इन्टरनेट सर्चिंग (Internet Searching) करना तो ऐसे में लैपटॉप आपके लिए काफी अच्छा रहेगा.

Computer Vs Laptop क्या खरीदना चाहिए ?

अब देखो कंप्यूटर और लैपटॉप में दोनों में कोनसा खरीदना बेहतर होगा ये तो आपको पता चल ही गया होगा दोनों चीज़ यहाँ पर अपनी अपनी जगह बहोत ही बेहतर है ये आपकी जरुरत के ऊपर निर्भर करता है तो फाइनल में यही कहूँगा की लैपटॉप लेने का जो मेन कारण है वो पोर्टेबिलिटी अगर आप एक जगह से दूसरी जगह जाते है तो आपका काम कंप्यूटर के बिना नहीं होता तो ऐसे में आपको जरुर लैपटॉप ही लेना चाहिए लेकिन अगर आपका काम बहोत हैवी है जैसे की विडियो एडिटिंग , गेमिंग , या फिर दुसरे हैवी सॉफ्टवेर चलाने का काम होता है और बाद में जाके आप सिस्टम को अपग्रेड भी करना पढ़ सकता है तो ऐसे में आपको कंप्यूटर (Computer) लेना चाहिए

NO COMMENTS