सी लैंग्वेज ( C Programming Language ) कैसे सीखे

सी लैंग्वेज ( C Programming Language ) कैसे सीखे

SHARE

कंप्यूटर की पढाई में आज कल विद्यार्थियों काफी तेजी से रूचि यानि की इंटरेस्ट बढ़ रहा है कोई कंप्यूटर में सॉफ्टवेर इंजिनियर (Software Engineer) बनना चाहता है तो कोई कंप्यूटर हार्डवेयर इंजिनियर (Computer Hardware Engineer) तो कोई हैकर बनना चाहता है आपको इस कंप्यूटर की फिल्ड में कई सारे कोर्स मिल जायेगे जिसमे से एक कोर्स बहोत पोपुलर है जो   की कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (Computer Programming Language) है जिसे हम आम भाषा में कोडिंग करना भी कहते है लेकिन अब सवाल उठता है की आखिर कैसे सीखे कोडिंग (Coding) है प्रोग्रामिंग लैंग्वेज कैसे सीखे ? अब प्रोग्रामिंग लैंग्वेज कई सारे होते है जैसे की सी लैंग्वेज (C Language) , जावा लैंग्वेज (Java Language) , सी प्लस प्लस (C++) इत्यादि तो यहाँ पर आपको एक लैंग्वेज सबसे पहले आना जरुरी है सी लैंग्वेज (C Language) एक सबसे इजी और आसान लैंग्वेज है अगर आपको सी लैंग्वेज सिख लेते हो तो इसके बाद आप बाकी लैंग्वेज आसानी सिख सकते है तो इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे की सी लैंग्वेज कैसे सीखे ? (How to Learn C Programming Language in hindi) और सी लैंग्वेज में बेसिक कैसे सीखे (Learn C Language Basic in hindi) लर्न सी लैंग्वेज इन हिंदी.

कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (Computer Programming Languages) में C लैंग्वेज बहोत ही पोपुलर है और इसका प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का इस्तेमाल अभी भी कई सॉफ्टवेर बनाने में किया जाता है ये एक बेसिक्स और बहोत ही इजी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज माना जाता है अगर आपने सी लैंग्वेज सिख लिया तो बाकी कंप्यूटर लैंग्वेज भी आसानी से सिख सकते है जावा लैंग्वेज (Java Language) , सी प्लस प्लस (C++) इत्यादि तो चलिए सीखते है C प्रोगाम्मिंग लैंग्वेज (C Programming Language) हिंदी में यानि की कोडिंग कैसे करे (How to code information in hindi) और कैसे एक छोटा सा सी लैंग्वेज में प्रोग्राम बनाये.

c programming language

सी लैंग्वेज क्या है ? (What is C Programming Language in hindi)

सी लैंग्वेज सिखने से पहले ये जानना जरुरी है की आखिर ये सी लैंग्वेज है क्या इसका क्या यूज़ है ये कब कब काम आता है और इसका कहा इस्तेमाल किया जाता है और C Programming Language सिखने के क्या क्या फायदे है (Advantages of c language in hindi) अडवानटेजस ऑफ़ सी लैंग्वेज.

सी लैंग्वेज एक कंप्यूटर कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है आसान भाषा में कहे तो ये कंप्यूटर की भाषा है या फिर कहलो कोडिंग (Coding) है जिसका इस्तेमाल करके कंप्यूटर समझ पता है की हम उसे क्या कमांड यानि निर्देश दे रहे है इसके इस्तेमाल से आप फर्मवेयर (Firmware) या फिर एप्लीकेशन (Application) या फिर सॉफ्टवेर (Software) बना सकते है अगर इसे किताबी भाषा में कहे तो ये एक हाई लेवल (High Level) स्ट्रक्चर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (Structured Programming Language) है

सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सिखने के फायदे

  • सी लैंग्वेज एक हाई लेवल लैंग्वेज है
  • इसे आप आसानी से सिख सकते है
  • अगर C Language अपने सिख लिए तो आपको दुसरे कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सिखने में कोई दिक्कत नहीं होगी
  • सी लैंग्वेज सीखे के बाद आप कंप्यूटर (Computer) के सिस्टम सॉफ्टवेर और एप्लीकेशन सॉफ्टवेर दोनों बना सकते हो

सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज ( C Programming Language) कैसे सीखे बेसिक्स जानकारी

सी लैंग्वेज को पूरा सीखना कोई एक दिन का काम नहीं है इसके लिए आपको महीनो लग सकते है साथ में या पर अपने कोडिंग को सुधारने के लिए आपको रोजाना प्रैक्टिस करना भी जरुरी है कोडिंग में तो यहाँ पर में आपको कुछ बेसिक्स बताने वाला है सी लैंग्वेज में जैसे की सिंटेक्स (Syntax) क्या होता है , डेटा टाइप्स (Data Types) क्या होते है और किस सॉफ्टवेर में सी लैंग्वेज सिखा जाता है साथ में एक छोटा सा प्रोग्राम बनाना भी बताऊंगा जिसे आपको सी लैंग्वेज का बेसिक्स (Basics) आजायेग यानि अगर आप बिगिनर (Beginner) हो तो आपके लिए ये जानना जरुरी है.

सी लैंग्वेज सिखने के लिए यानि कोडिंग की प्रैक्टिस करने के लिए आपको एक सॉफ्टवेर की जरुरत होगी वैसे आपको इन्टरनेट में कई सरे सॉफ्टवेर मिल जायेंगे लेकिन सी लैंग्वेज के लिए Turbo C/C++ काफी पोपुलर सॉफ्टवेर है जहा पे आप सी लैंग्वेज के कोडिंग की प्रैक्टिस कर सकते है तो टर्बो सी Turbo c को डाउनलोड करे इसके बाद आप कई सरे बेसिक्स टॉपिक्स को सीखना है जो में आपको नीचे दिए गए विडियो में अच्छे से और बहोत ही आसान तरीके से सिखाऊंगा.

सी लैंग्वेज सिखने के लिए स्टेप फॉलो करे

अगर आपको कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में सी लैंग्वेज के बेसिक्स सीखना है तो में आपको वो सरे बेसिक्स के टॉपिक्स निचे बताने वाला हु जिसे आप हारे वीडियोस को देख कर अच्छे से समझ सकते है विडियो में सभी टॉपिक को एक एक करके अच्छे समझाया गया है आप इन्हें आसानी से समझ सकते है और कोडिंग सिख सकते है

 स्टेप 1 :  सॉफ्टवेर डाउनलोड करे  

अगर आपको कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में सी लैंग्वेज (C Language) सीखना तो इसके लिए आपको प्रैक्टिस करने की काफी जरुरत होगी की प्रैक्टिस से ही आप अपने कोडिंग स्किल को और बेहतर बना सकते है और इसके लिए आपको एक सॉफ्टवेर की जरुरत होगी जहा पर आपको सी लैंग्वेज (C Language) के प्रोग्राम बनाने होंगे जहा पर आप प्रैक्टिस कर सकते है इस सॉफ्टवेर का नाम है टर्बो सी (Turbo C/C++) ये सॉफ्टवेर फ्री है इसे आपको यहाँ डाउनलोड पर क्लिक करके डाउनलोड कर सकते है.DOWNLOAD TURBO C


 स्टेप 2 :  C Language के बेसिक्स चीजों को समझे

जैसे ही आप इस सॉफ्टवेर को डाउनलोड कर लेते है इसके बाद अब आपको सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (C Programming Language)के कुछ बेसिक्स समझने होंगे जैसे की सिंटेक्स क्या है इसका क्या क्या काम है हैडर फाइल्स (Header Files) क्या होते है इसके लिए आप एक छोटा सा  सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (C Programming Language) का हेल्लो वर्ल्ड (Hello World) प्रोग्राम देख सकते है और उसमे आपको समझ आजायेगा की हैडर फाइल्स क्या है main() क्या होता है इत्यादि ये सब चीज़ बेसिक्स समझे पहले.

c hello world program


 स्टेप 3 :  अब Data Types और variable का कांसेप्ट समझे

जैसे ही आप सी लैंग्वेज का बेसिक्स पता चल जाता की सिंटेक्स (Syntax) क्या होता है ? हैडर फाइल्स (Header Files) क्या होता है इसके बाद आपको समझना होगा की आखिर ये डेटा टाइप्स (Data Types) क्या होते है वेरिएबल नेम (Variables name) क्या होते है क्यों कंप्यूटर के मेमोरी (Memory) में आप किसी भी डाटा को ऐसे ही स्टोर नहीं कर सकते उसका नाम और डाटा टाइप डिक्लेअर करना               जरुरी है ये चीज़े बेसिक्स में आती है जो आपको पता होना चाहिए तभी आप एक प्रोग्राम बना सकते है सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (C Programming Language) में.

data types


 स्टेप 4 :  अब function और keywords का यूज़ समझे

ये सभी चीज़े समझने के बाद अब आपको समझना होगा की ये फंक्शन क्या है ? सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (C Programming Language) , कीवर्ड्स (Keywords) क्या होते है जैसे की printf या scanf क्या है इसका क्या यूज़ है %d , %f , %s क्या है कब लगाया जाता है ये सब चीज़े समझना बहुत जरुर है वरना बहोत कांफुसिंग हो जाता बाद में प्रोग्राम बनाने में तो इन सभी चीजों का कांसेप्ट पहले क्लियर हो तो ज्यादा बेहतर रहता है ताकि प्रोग्राम में दिक्कत न हो.


 स्टेप 5 :  अब एक छोटा सा प्रोग्राम बनाये

ये सभी चीज़े सिखने के बाद अब आप आसानी से छोटा मोटा प्रोग्राम सी लैंग्वेज में बना सकते है चाहे वो हेल्लो वर्ल्ड का प्रोग्राम हो या दो नंबर को जोड़ने वाला प्रोग्राम हो आप इन्टरनेट में सर्च कर सकते है C Language simple Program आपको कई सारे प्रोग्राम मिल जायेंगे जिन्हें आप खुद से प्रैक्टिस करके समझ सकते है

program


 स्टेप 6 :  अब एक C language की बुक ख़रीदे

जैसे ही आप सब कुछ बेसिक्स समझ जाते है एक छोटा मोटा प्रोग्राम बना लेते है इसके बाद अब आपको एक बुक (Book) यानि किताब लेना बहोत जरुरी है सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (C Programming Language) आप सी भी बुक ले सकते जिससे आपको टॉपिक वाइज समझने में आसानी होगी क्यों की अगर आप ऐसे इन्टरनेट में सर्च करेंगे तो आपको थोडा मुस्किल हो जायेगा की कोनसा टॉपिक पहले समझे तो कोसिस करे एक बुक लेले हेल्प क लिए बाकी आप इन्टरनेट का इस्तेमाल भी कर सकते है.

तो इस तरह से आप आसानी से सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (C Programming Language) सिख सकते घर पर ही अगर आप सीखना चाहते है लेकिन लिए आपको अच्छे से और मन लगाके सीखना होगा आप एक अच्छे कोडर या प्रोग्रामर (Programmer) बन सकते है

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखे विडियो से ( Learn C Language in Hindi)

अगर आप इस विडियो में मेने आपको जो भी बताता है उससे अच्छे से सुन लोगे और नोट क्र्लोगे तो गारेंटी आपको सी लैंग्वेज का जो भी बेसिक्स है वो सब चीज़ आपको अच्छे से समझ आजायेगा और आप खुद से अपना एक छोटा मोटा प्रोग्राम बना सकते है इसके बाद आप आगे की चीज़े सिख सकते हो सी लैंग्वेज में.

NO COMMENTS